चुनावी नतीजे आते ही कमलनाथ सरकार पर क्यों है ख़तरा?

Why is the threat to the Kamal Nath government when the election results come?

संसदीय लोकतांत्रिक व्यवस्था में यह कतई ज़रूरी नहीं कि चुनाव में हमेशा ही किसी न किसी पार्टी को बहुमत हासिल हो. कई बार अल्पमत की सरकारें भी बाहरी समर्थन से चलती है और मिली-जुली सरकारें भी बनती हैं. कई बार तो अल्पमत वाली या मिली-जुली सरकारें कामकाज के लिहाज से पूर्ण बहुमत वाली सरकारों से भी बेहतर साबित होती हैं. वैसे किसी भी चुनाव के नतीजों में जब त्रिशंकु सदन की स्थिति उभरती है और मिली-जुली सरकारें बनती हैं तो राजनीतिक अस्थिरता पैदा होने का अंदेशा हमेशा बना रहता है.…

Read More

राजीव गांधी ने कहा था- सांप्रदायिकता का जहर फैला रही है बीजेपी

Rajiv Gandhi had said- BJP is spreading the poison of communalism

News Agency : देश के छठे प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज पुण्यतिथि है। महज 40 साल की उम्र में देश के प्रधानंमत्री बनने वाले राजीव गांधी अभी 47 बरस के भी नहीं हुए थे कि एक आत्मघाती हमलावर ने बम धमाके में उनकी जान ले ली थी। 1993 में राजीव गांधी की दूसरी बरसी पर नेशनल हेरल्ड ने राजीव गांधी के दो इंटरव्यू के अंश प्रकाशित किए थे। इनमें से एक इंटरव्यू 1983 का था, जो उन्होंने कांग्रेस महासचिव की हैसियत से दिया था और दूसरा इंटरव्यू मार्च 1991 का…

Read More

2019 के नरेंद्र मोदी की हालत 2004 के वाजपेयी की तरह?

2019 Narendra Modi's condition is like the 2004 Vajpayee?

ख़बरिया चैनलों के एग्ज़िट पोल के मुताबिक नरेंद्र मोदी सरकार वापसी कर रही है. दावा तो बीजेपी गठबंधन को 300 से भी ज्यादा सीटों के मिलने का किया जा रहा है, अब ऐसा होगा या नहीं यह तो 23 मई को होने वाले नतीजों से पता चलेगा. बावजूद इन सबके यह आम चुनाव 2004 से बहुत मिलता-जुलता है, जब राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार का चमक-दमक भरा ‘इंडिया शाइनिंग’ अभियान और बहुप्रचारित ‘फ़ील गुड फैक्टर’ धराशायी हो गया था. तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के करिश्माई नेतृत्व की कलई भी…

Read More

ये तीन राज्यों से तय होगी सरकार, एग्जिट पोलों में दिखा रहा है बड़ा अंतर

These three states will be decided by the government, big gap is showing in exit poles

News Agency : लोकसभा चुनाव संपन्न होने के बाद रविवार को तमाम एग्जिट पोल के नतीजे सामने आए। इन तमाम एग्जिट पोल के नतीजों पर नजर डालें तो अधिकतर एग्जिट पोल भारतीय जनता पार्टी को बहुमत देते नजर आ रहे हैं और एनडीए की सरकार दोबारा से आसानी से बनती दिख रही है। लेकिन इस चुनाव में जिन तीन राज्यों ने भारतीय जनता पार्टी के लिए नतीजों को बदलने का काम किया है वह हैं उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और ओडिशा। इन तीनों राज्यों में लोकसभा की कुल 143 सीटें…

Read More

क्यों केजरीवाल छटपटा रहे हैं मुस्लिम वोटों के लिए?

Why Kejriwal is screaming for Muslim votes?

23 मई को लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि आख़िरी घंटों में दिल्ली के मुसलमान मतदाता कांग्रेस की तरफ़ शिफ़्ट हो गए. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की सभी सात सीटों पर आम आदमी पार्टी जीत रही थी लेकिन अंतिम समय में मुस्लिम वोट कांग्रेस के साथ चले गए. इंडियन एक्सप्रेस को दिए अपने इंटरव्यू में केजरीवाल ने कहा, “देखते हैं क्या होता है. दरअसल, चुनाव के 48 घंटे पहले तक लग रहा था…

Read More

’गोडसे पर साध्वी प्रज्ञा के बयान से पहली बार मजबूर हुए मोदी’

क्या आपने कभी नरेंद्र मोदी और अमित शाह को लाचार होते देखा है? वो जो करते हैं खम ठोक के करते हैं और उस पर कभी अफ़सोस नहीं जताते और कभी कभार ही सफ़ाई देने की ज़रूरत महसूस करते हैं. गुजरात में हुए 2002 के दंगे हों, सोहराबुद्दीन फ़ेक एनकाउंटर का मामला हो, जज लोया की मौत और अमित शाह के ख़िलाफ़ लगे तमाम तरह के आरोप हों, नोटबंदी, लिंचिंग हो या फिर बम विस्फोट करके निर्दोष लोगों की जान लेने के आरोपों में घिरी प्रज्ञा ठाकुर को भोपाल से…

Read More

वाजपेयी का गांव प्रीणी बीजेपी सरकार के रवैये से नाराज, कहा- वे होते तो न होता हमारा गांव बदहाल

News Agency : हिमाचल प्रदेश में मनाली के पास स्थित करीब 1500 आबादी वाला गांव प्रीणी है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का दूसरा घर गांव प्रीणी में है। अटल बिहारी वाजयेपी की यादें संजोये इस गांव के लोगों को आज भी मलाल है कि उनके देहांत के बाद बीजेपी के किसी बड़े नेता ने पलटकर गांव की तरफ नहीं देखा। गांव के लोगों को उम्‍मीद थी कि पीएम मोदी कम से कम एक बार तो प्रीणी जरूर आएंगे। लेकिन ऐसा हुआ नहीं और कोई नहीं आया। यहां तक कि…

Read More

क्या नरेंद्र मोदी पर उनकी ‘चतुराई’ भारी पड़ रही है?

2019 का लोकसभा चुनाव नरेंद्र मोदी की वशीकरण कला की परीक्षा है. उन्होंने पांच साल चतुराई से सत्ता के तंत्र-मत्रों, मार्केटिंग और झूठ से करोड़ों मतदाताओं की जो वशीभूत भीड़ बनाई है, उसका नतीजा 23 मई को दिखाई देगा. यों आगे बहुत पोस्टमार्टम होगा कि 2014 में दशकों राज करने के जनादेश को मोदी-शाह ने कैसे गंवाया? आप पूछे सकते हैं कि मैं पांच साल के जनादेश पर दशकों राज की संभावना कैसे बता रहा हूं? दरअसल मेरा मानना है कि मतदाताओं ने 2014 में चक्रवर्ती हिंदू राज की आस में…

Read More

Anthro.ai के अनुसार, छठे दौर में उत्तर प्रदेश से बीजेपी को मिलेगा शून्य

According to Anthro.ai, in the sixth round, BJP will get zero from Uttar Pradesh

News Agency : उत्तर प्रदेश में छठे दौर के मतदान पर एंथ्रो ने जो अनुमान लगाया है, उसका पहला शब्द है शून्य…यह वह नंबर है जो एंथ्रो के मुताबिक बीजेपी के हिस्से में आएगा। एंथ्रों ने इसका कारण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लोगों की नाराजगी और जातिवाद को बताया है। नीचे दी गई रिपोर्ट anthro.ai का अनुवाद है – रविवार, twelve मई को पूर्वी उत्तर प्रदेश की fourteen सीटों पर मतदान हुआ। 2014 के लोकसभा चुनाव में आज़मगढ़ के अलावा बीजेपी ने इस दौर की सभी सीटें जीती थीं। इस…

Read More

मोदी के खिलाफ बयान और मोदी के विवादित बयान

भारतीय राजनीति में चुनावी समर के दौरान राजनेताओं के ज़ुबान फिसलने का लंबा इतिहास रहा है. इस बार के लोकसभा चुनावों में न सिर्फ़ कई नेताओं की ज़ुबान फिसली है, बल्कि उन्होंने राजनीति से इतर नेताओं की निजी ज़िंदगियों में तांक-झांक वाले ऐसे बोल बोले हैं, जो न सिर्फ़ आपत्तिजनक हैं, बल्कि जिसकी उनसे उम्मीद नहीं की जाती है.चुनावी रैलियों में जनता के सामने अपने प्रतिद्वंद्वी को नीचा दिखाने के मकसद से ये नेता मर्यादा और नैतिकता की रेखाएं पार करते नज़र आए हैं. इस जमात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी…

Read More