शैंकी यादव हत्या मामले में भाजपा नेता राकेश सिंह सहित कई गिरफ्तार

विशेष संवाददाता द्वारा

जमशेदपुर:पुलिस जमशेदपुर पुलिस की तत्परता के कारण है कि शैंकी यादव हत्या मामले में भाजपा नेता राकेश सिंह की ही पूरे कांड का मास्टरमाइंड बताया है तथा पुलिस ने अधिकारीक तौर में बताया है कि राजेश के साथ रोहन सिंह, शंभू सिंह, नीरज सिंह, संतोष तिवारी उर्फ मिथिलेश तिवारी, आयुष सिंह, मनीष सिंह, शेखर दीक्षित और उत्तम लोहार को गिरफ्तार किया है!
पिछले दिनों कल गैंगस्टर शैंकी यादव (32) की गुरुवार शाम 7.30 बजे उलीडीह थाना अंतर्गत खड़िया बस्ती में गोली मारकर हत्या कर दी गयी। हत्या का आरोप भाजपा मानगो मंडल के पूर्व अध्यक्ष राजेश सिंह और उसके लोगों पर लगा है। शैंकी तड़ीपार था
घटना के बारे में बताया जा रहा है कि आरोपी गैंगस्टर सैंकी यादव ने बीजेपी नेता राजेश सिंह पर वर्चस्व को लेकर हमला कर दिया. गैंगस्टर ने बीजेपी नेता की गाड़ी को डिमना मोड़ के पास आगे से घेरा और अपने साथियों के साथ कई फायरिंग की, लेकिन बीजेपी नेता की किस्मत अच्छी रही की जान बच गई. आरोपी की हत्या के बाद बीजेपी नेता ने कहा कि आरोपी की हत्या से उसका कोई लेना देना नहीं है. उसने मुझ पर हमला किया था.

फायरिंग कर भाग रहे तड़ीपार शैंकी यादव की गोली मारकर हत्या

बीजेपी नेता पर हमले के बाद 45 मिनट के बाद ही गैंगस्टर सैंकी यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई. उसके सिर को पत्थर से कुचल दिया गया. यही नहीं उसके शव को किसी गाड़ी से रौंद भी डाला

गुरुवार शाम शैंकी यादव के भाई दीपक यादव के साथ भाजपा नेता राजेश सिंह के भगिना रोहन सिंह के साथ झगड़ा हुआ था। उस झगड़े के बाद दीपक एमजीएम थाना चला गया, जहां उसने घटना की शिकायत की। थाना में उसे बैठा लिया गया। जब इसकी जानकारी राजेश सिंह को मिली तो वह काउंटर केस करने के लिए अपनी गाड़ी से हाईवे में जाम लगने के चलते खड़िया बस्ती वाले रास्ते से एमजीम थाना के लिए निकला। वह खड़िया बस्ती के निकट बिजली के पोल के पास पहुंचा था कि अचानक सामने से शैंकी यादव आया और उसने राजेश सिंह की गाड़ी पर फायरिंग कर दी। यहां शैंकी की गाड़ी को धक्का देकर जान बचाकर राजेश वहां से निकलकर भागा और वह एमजीएम थाना चला गया। इसकी जानकारी रोहन को मिलने पर वह दौड़ता हुआ पहले शैंकी यादव के घर गया, जहां उसकी मां को धक्का देकर गिराया और शैंकी यादव के भगिना रोनित यादव की पिटाई कर दी। इसके बाद रोहन अपने साथ तीन युवकों को लेकर शैंकी को खोजने के लिए निकला तो उसका सामना शैंकी से हो गया। चूंकि, शैंकी की पिस्तौल पहले कॉक हो चुकी थी, इसलिए रोहन का सामना करने के बजाए वह भागा तो उसका पीछा कर खड़िया बस्ती मंदिर से आगे मोड़ के पास उसे दबोच लिया और सिर से पिस्तौल सटाकर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी।
यह घटना सैंकी यादव के भाई ने कहा कि भाई की हत्या बीजेपी नेता राजेश सिंह ने की है. हत्या में राजेश सिंह, उसका भांजा रोहन सिंह, चंद्रशेखर उर्फ शेखर, आयुष, शुभम सिंह, उत्तम समेत पांच-सात लोगों का हाथ है. इसको लेकर दोनों पक्षों ने केस दर्ज कराया है. फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है.

इस घटना से जमशेदपुर में आम जनता में दहशत है

नौकरी पाने के लिए हर पल birsatimes.com के सम्पर्क में रहें!

Related posts

Leave a Comment