कांग्रेसी नेताओं के बीच जमकर चले लात-घूंसे, सभा में मची भगदड़

राजनीतिक संवाददाता द्वारा
रामगढ़.इस समय कांग्रेस में कुछ असामाजिक तत्व प्रवृत्ति के लोग के कारण जगह-जगह आपस में मारपीट होते रहता है! ऐसे कोयला क्षेत्रों में सभी दलों के नेता माफिया तत्व के लोग हैं यह लोग मजदूर यूनियन का बोर्ड लगाकर ठेकेदारी, रंगदारी तथा माफियागिरी करते हैं जिसके कारण प्राय: सभी पार्टी के मजदूर यूनियन नेता के पास अकूत धन अर्जित कर लिया है, साथ ही साथ अपने पार्टी तथा अन्य पार्टियों के बीच वर्चस्व की लड़ाई के लिए आपस में मारपीट तथा अन्य कई तरह के गलत आचरण करते रहते हैं इसी क्रम में कांग्रेसियों ने रामगढ़ स्थित सीसीएल तोपा परियोजना कार्यालय परिसर को रणक्षेत्र में तब्दील कर दिया. बुधवार को मजदूरों की विभिन्न मांगों को लेकर परियोजना कार्यालय में धरना दे रहे थे. इसी दौरान कांग्रेसी भाषण देने के विवाद में आपस में ही भिड़ गए. दो गुटों में बंटे कांग्रेसियों के बीच जमकर गाली गलौज और मारपीट हुई. इस घटना में कांग्रेसी नेता श्याम सिंह घायल हो गए. रामगढ़. कांग्रेसियों ने रामगढ़ (स्थित सीसीएल तोपा परियोजना कार्यालय परिसर को रणक्षेत्र में तब्दील कर दिया. बुधवार को मजदूरों की विभिन्न मांगों को लेकर परियोजना कार्यालय में धरना दे रहे थे. इसी दौरान कांग्रेसी भाषण देने के विवाद में आपस में ही भिड़ गए. दो गुटों में बंटे कांग्रेसियों के बीच जमकर गाली गलौज और मारपीट हुई. इस घटना में कांग्रेसी नेता श्याम सिंह घायल हो गए.

PHOTOS: कांग्रेसी नेताओं में भाषण को लेकर हुआ विवाद, जमकर चले लात-घूंसे,  सभा में मची भगदड़ | Jharkhand News: Controversy over speech among Congress  leaders, Fierce kick-punches, stampede ...

रामगढ़. कांग्रेसियों ने रामगढ़ स्थित सीसीएल तोपा परियोजना कार्यालय परिसर को रणक्षेत्र में तब्दील कर दिया. बुधवार को मजदूरों की विभिन्न मांगों को लेकर परियोजना कार्यालय में धरना दे रहे थे. इसी दौरान कांग्रेसी भाषण देने के विवाद में आपस में ही भिड़ गए. दो गुटों में बंटे कांग्रेसियों के बीच जमकर गाली गलौज और मारपीट हुई. इस घटना में कांग्रेसी नेता श्याम सिंह घायल हो गए.
पुलिस ने उन्हें सदर अस्पताल भेज कर प्राथमिक उपचार कराया. इस मामले में दोनों ही पक्षों की ओर से एक-दूसरे पर गाली गलौज और मारपीट की प्राथमिकी दर्ज करने का आवेदन दिया गया है.
धरना में संबोधन का अवसर न मिलने से गुस्सा कांग्रेस के मांडू प्रखंड कार्यकारी अध्यक्ष सह यंग ब्रिगेड कांग्रेस सेवादल के जिलाध्यक्ष श्याम सिंह ने न सिर्फ आपत्ति जताई, बल्कि वरीय नेताओं को भला-बुरा कह डाला. इस बीच श्याम सिंह पर गाली गलौज करने का आरोप लगाते हुए राजीव गांधी पंचायती राज के प्रदेश को-आर्डिनेटर शांतनु मिश्रा, कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुन्ना पासवान, पूर्व जिलाध्यक्ष बलजीत सिंह बेदी और मांडू प्रखंड अध्यक्ष सुधीर सिंह उन पर टूट पड़े. इस बीच कुछ कांग्रेसियों ने ही बीच बचाव कर मामला शांत कराया.
इस मामले में श्याम सिंह ने संबंधित चारों कांग्रेसी नेताओं पर कुजू ओपी में एफआईआर के लिए आवेदन दिया है. उन्होंने संबंधित नेताओं पर लात-घूंसों और मुक्कों से मारकर जख्मी करने का आरोप लगाया है. वहीं दूसरे पक्ष की ओर से जिलाध्यक्ष मुन्ना पासवान ने श्याम सिंह के विरुद्ध मारपीट, जाति सूचक शब्द का इस्तेमाल व धमकी देने की शिकायत करते हुए आवेदन दिया है.
बुधवार को मजदूरों की विभिन्न मांगों को लेकर परियोजना कार्यालय में धरना दे रहे थे. इसी दौरान कांग्रेसी भाषण देने के विवाद में आपस में ही भिड़ गए. दो गुटों में बंटे कांग्रेसियों के बीच जमकर गाली गलौज और मारपीट हुई. इस घटना में कांग्रेसी नेता श्याम सिंह घायल हो गए.

Related posts

Leave a Comment