कब तक भाजपा हिन्दू संतों को अपमानित करते रहेगा !

अरुण कुमार चौधरी

हमारे माननीय संत मुरारी बापू पर गुजरात के पूर्व विधायक पाबूभा मानेक ने हमला करने की कोशिश किया इस बात को लेकर मैं दो दिनों से बहुत ही बिचलित हो गया हूँ कि अब हिन्दू संतों की दर्दशा इतने नीचे स्तर तक पहुंच जायगा !   मैनें पिछले तीस वर्ष पूर्व मुरारी बापू का भव्य राम कथा का आयोजन जिला स्कूल रांची में देखा तथा श्रवण किया था ,जिसके आयोजक स्व सीता राम मारु जी थे , जो कि आर एस एस. के प्रांतीय स्तर के स्वयं सेवक थे ! इसके अलावे मैनें बहुत से मुरारी बापू का सतसंग देखा और सुना है, इनके कथा में ज्ञान की धारा प्रवाहित होती है , क्योंकि मुरारी बापू अपनी कथा में लोगों को शिक्षाप्रद बातें करते हैं ,अपने श्रोता को जीने की कला बताते हैं, सद्भावना पैदा करने की बात करते हैं और यह बात आर एस एस तथा बीजेपी को हजम नहीं हो रहा है क्योंकि इन्हे हिंदू मुस्लिम का नशा से युक्त धतूरा चाहिए,

Morari Bapu ने कृष्ण-कुल को शराबी भले ...

जिससे भोली बाली जनता आर एस एस तथा बीजेपी का अंधभक्त बन जाए! इस समय वर्तमान मीडिया में 90% गोदी मीडिया हो चुका है , यह  गोदी मीडिया  सिर्फ झूठी  बात कर सच्ची बातों को छुपा रहा है! यह लोकतंत्र के लिए बहुत ही बड़ा खतरा बन गया है !यह गोदी मीडिया आर एस एस के एजेंडे को हिंदू मुस्लिम की धतूरे को बड़ी जोर शोर से प्रचार करता है !जो लोग देश की प्रगति , आपसी सद्भावना तथा समाज की उन्नति की बात करता है सभी धर्मों के सभी धर्मों के  अच्छी बातों का का उल्लेख करते हैं का  उसे आर एस एस/बीजेपी  के गुंडे तरह-तरह की गन्दी -गन्दी गालियां देते रहते हैं तथा  उनके बारे में गलत प्रचार करते हैं! इनको देश में अच्छे समाज के निर्माण से कोई मतलब नहीं है ,इनको सिर्फ ऐन – केन प्रकरण सत्ता चाहिए! ऐसे तो बीजेपी में जो जितना झूठ बोलेगा, पाकिस्तान की बात करेगा ,उतना ही उसका पदोन्नति होता है ,जैसे केंद्रीय  मंत्री गिरिराज सिंह है जो सुबह -शाम मुर्गा खाता है और जनता को बेकूफ बनता है, इनको बेगूसराय की जनता खोज रही है !इसके अलावे सब से बड़ा झूठा रेल मंत्री पियूस गोयल है, जो दिन -रात केबल झूठ बोलता है ,जिसके कारण रेल की बड़ी बदनामी हो रही है !

उत्तर प्रदेश के मुस्लिम परिवारों को ...

इस घटना के सम्बन्ध में कहना है कि विश्वविख्यात कथावाचक मोरारी बापू उस वक्त सन्न रह गए, जब बीजेपी के पूर्व विधायक पबुभा माणेक ने उन पर हमला करने की कोशिश की. जैसे ही भाजपा नेता बापू को मारने के लिए दौड़े सांसद पूनम माडम ने उन्हें रोक लिया. लेकिन इसके बावजूद माणेक ने मोरारी बापू के साथ गाली गलौच कर डाली.
घटना द्वारिका की है, जहां दर्शन करने के बाद बीजेपी नेताओं के साथ मोरारी बापू मुलाकात कर रहे थे. उसी वक्त ये अप्रिय घटना हुई. दरअसल, कुछ दिन पहले यूपी में एक कथा के दौरान मोरारी बापू ने भगवान कृष्ण को लेकर एक बयान दिया था. उन्होंने श्रीकृष्ण के वंशजों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी और उनके भाई बलराम को शराबी कहा था. इसका वीडियो वायरल हो गया था.
इस वीडियो के वायरल हो जाने से अहीर समाज में खासा रोष व्याप्त था. इस बात की जानकारी मिलते ही मोरारी बापू ने एक और वीडियो सोशल मीडिया में जारी कर सभी श्रीकृष्ण भक्तों से माफ़ी मांगी थी. लेकिन मोरारी बापू की टिप्पणी को लेकर ही गुरुवार को बीजेपी नेता पबुभा ने मोरारी बापू पर हमला करने की नाकाम कोशिश की.बताया जा रहा है कि मोरारी बापू जिस बयान के लिए माफी मांग चुके थे, उसी के संबंध में वे बीजेपी नेताओं से द्वारिका में मुलाकात करने के लिए गए थे. वहां सांसद पूनम माडम समेत कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे. उसी दौरान अचानक बीजेपी नेता और पूर्व विधायक पबुभा माणेक ने इस घटना को अंजाम दे डाला.बापू के बगल में बैठी जामनगर की सांसद पूनम मदाम और अन्य लोगों ने तुरंत हस्तक्षेप किया और मानेक को वहां से दूर ले गए।
इन घटना से स्पष्ट हो गया की आर एस एस तथा बीजेपी अपने वोट बैंक के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं

 

                                                              निवेदन
ऐसे तो हजारों पाठकों का भरपूर सहयोग मिल रहा है, जिसके कारण हम अपनी सच्ची पत्रकारिता को आगे बढ़ा रहे हैं !इसी क्रम में प्रबुद्ध पाठकों से आग्रह है कि हम    आलेख    को प्रस्तुत करता हूं,! इसमें कुछ त्रुटियां हो सकती है, जिसे आप हमें समय-समय पर अवगत करा सकते हैं और आपका सुझाव मेरे लिए बहुत ही मूल्यवान होगा!
इस संबंध में कहना है कि अगर मेरी प्रस्तुति अच्छा लगे, तो आप अपने मित्रों, परिवारजनों तथा बुद्धिजीवियों को अधिक से अधिक इस प्रस्तुति को अग्रसारित करते रहें और हमें हौसला बढ़ाते रहें ।
                                                                                                                                                                                                                      आपका
                                                                                                                                                                                                              अरुण कुमार चौधरी

 

 

 

Related posts

Leave a Comment