हिमाचल में कांग्रेस ने जीते 2 नगर निगम

दिल्ली व्यूरो
शिमला। पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी घमासान जारी है। पांचों राज्यों के चुनाव नतीजे 2 मई को घोषित किए जाएंगे, लेकिन चुनाव लड़ रहे सभी राजनीतिक दल अभी से अपनी जीत के बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं। इस बीच हिमाचल प्रदेश में हुए चार नगर निगमों के चुनाव परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। इन चारों नगर निगम में बुधवार को मतदान हुआ था, जिसके बाद देर शाम वोटों की गिनती शुरू की गई। चुनाव परिणाम के मुताबिक कांग्रेस ने यहां धमाकेदार प्रदर्शन किया है।
राज्य चुनाव आयोग के अधिकारी संजीव चौहान ने बताया कि सत्तारूढ़ भाजपा को मंडी नगर निगम में जीत मिली है और धर्मशाला नगर निगम में वो सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। वहीं, पालमपुर और सोलन में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन कर बहुमत हासिल किया है। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के लिए एक सबसे बड़ी राहत की खबर ये है कि उनके गृह जनपद मंडी में भाजपा ने 15 वार्ड में से 11 वार्ड पर जीत दर्ज की है। मंडी में बाकी चार सीटें कांग्रेस के खाते में गई हैं।
हिमाचल के धर्मशाला नगर निगम में भाजपा को जीत तो मिली है, लेकिन पार्टी अभी भी बहुमत के आंकड़े से एक सीट दूर है। धर्मशाला में 17 वार्ड हैं, जहां भाजपा के खाते में 8 सीटें गई हैं। बाकी 9 सीटों में से 5 पर कांग्रेस और 4 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत का परचम लहराया है। निर्दलीय जीतने वाले उम्मीदवारों में से ज्यादातर भाजपा से बगावत करके चुनाव लड़े थे और अब पार्टी धर्मशाल नगर निगम में बहुमत पाने के लिए इनका समर्थन हासिल करने की कोशिश में जुट गई है।
वहीं, चार नगर निगम में से पालमपुर और सोलन में स्पष्ट बहुमत पाने और धर्मशाला में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जश्न का माहौल है। पालमपुर के 15 वार्ड में से कांग्रेस को 11 वार्डों में जीत मिली है। जबकि, यहां दो सीट भाजपा और दो सीट निर्दलीय उम्मीदवारों के खाते में गई हैं। सोलन नगर निगम में भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली। यहां 17 वार्डों में से 9 वार्ड में कांग्रेस ने जीत दर्ज की, जबकि 7 साट भाजपा और एक सीट निर्दलीय उम्मीदवार के खाते में गई।
आपको बता दें कि बुधवार को हिमाचल प्रदेश के चार नगर निगमों में चुनाव हुआ और कुल 65.30 फीसदी मतदान रिकॉर्ड किया गया। मतदान का सबसे ज्यादा प्रतिशत मंडी में 69.20 फीसदी रिकॉर्ड हुआ। इसके अलावा पालमपुर में 68.8 फीसदी, धर्मशाला में 62.7 फीसदी और सोलन में 61.60 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। इनमें मंडी, सोलन और पालमपुर नए नगर निगम बनाए गए हैं और यहां पहली बार मतदान हुआ।
इलेक्शन कमीशन ने चारों नगर निगम के लिए इस बार पार्टियों के चुनाव निशान पर ही चुनाव कराया। कुल 64 वार्डों के लिए हुए चुनाव में 279 प्रत्याशी मैदान में थे। वहीं, इस बार आम आदमी पार्टी ने भी 43 वार्डों में अपने उम्मीदवार खड़े किए थे। जबकि, मंडी के एक वार्ड में सीपीआई (एम) ने अपना प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारा था।

Related posts

Leave a Comment