लेस्लीगंज क्वारंटाइन सेंटर में एक युवक ने की आत्महत्या।*

पलामू जिले के लेस्लीगंज में एक क्वारंटाइन सेंटर में एक युवक ने आत्महत्या कर ली. यह घटना लेस्लीगंज थाना के कोर्टखास पथरही सेंटर की है. यह युवक पिछले कुछ दिनों से क्वारंटाइन सेंटर में रह रहा था।बताया जा रहा है कि उसने फांसी लगा कर आत्महत्या की. वह युवक लातेहार के चंदवा में काम करता था. वह लेस्लीगंज के गोपालगंज गांव का रहने वाला था।घटना की सूचना मिलने पर एसपी और उपायुक्त जांच के लिए लेस्लीगंज पहुंचे हैं. इस मामले की जांच की जा रही है कि आखिर युवक ने…

Read More

झारखंड में पति-पत्नी सहित चार लोगों को डायन-बिसाही बताकर पीट पीट कर मार डाला

सिसई : गुमला जिला के सिसई थाना क्षेत्र के नगर सिसकारी गांव मे तीन परिवार के चार लोगों की डायन-बिसाही के आरोप में लाठी डंटा से पीटकर निर्मम हत्या कर दी गयी. मृतकों की पहचान चापा भगत (65 वर्ष) , पत्नी पीरी देवी (62 वर्ष) , सुना उरांव (65 वर्ष) , फगनी देवी (60 वर्ष) के रूप में की गयी है. बताया जा रहा है कि सभी झाड़ फूक का काम करते थे. घटना रविवार अहले सुबह लगभग तीन बजे की है. चारो को अपराधी घर से निकालकर  गांव के आखाड़ा…

Read More

आदिवासी लिंचिंग पीड़ितों ने कहा, पीटने वाले जय श्रीराम के नारे लगा रहे थे

झारखंड के गुमला ज़िले में बीते 10 अप्रैल को गोहत्या के शक में भीड़ ने कुछ आदिवासियों पर हमला कर दिया था. इसमें एक आदिवासी की मौत हो गई थी, जबकि तीन अन्य घायल हो गए थे. 10 अप्रैल 2019 को झारखंड में गुमला के डुमरी ब्लॉक के जुरमु गांव के रहने वाले 50 वर्षीय आदिवासी प्रकाश लकड़ा को कथित तौर पर गोहत्या के शक में पड़ोसी जैरागी गांव के लोगों की भीड़ ने पीट-पीट कर मार दिया. भीड़ के हमले में घायल तीन अन्य पीड़ित- पीटर केरकेट्टा, बेलारियस मिंज और…

Read More

मॉब लिंचिंग क्यों नहीं बना झारखंड में चुनावी मुद्दा?

जुरमू गांव के प्रकाश लकड़ा अब इस दुनिया में नहीं हैं. बीती 10 अप्रैल को एक उन्मादी भीड़ ने उनकी पीट-पीटकर हत्या कर दी. यह भीड़ उनके ही पड़ोसी गांव जैरागी से आयी थी. भीड़ को शक़ था कि वे और उनके साथी गाय का मांस काट रहे हैं. जबकि, जुरमू के ग्रामीणों का कहना है कि प्रकाश और उनके तीन साथी मरे हुए बैल का मांस काट रहे थे. बैल के मालिक ने उनसे उसकी खाल (चमड़ा) उतारने के लिए कहा था. बहरहाल, प्रकाश लकड़ा का नाम अब झारखंड…

Read More