झारखण्ड के कोयला खानों पर पूंजीपतियों का गिद्ध दृष्टि

अरुण कुमार चौधरी भारत में    सूरत   हीरा  के लिए  प्रसिद्ध   है  वहीं दूसरी ओर धनबाद काला हीरा के लिए प्रसिद्ध है !कोयला खानों की   कहानी अंग्रेजों के समय से ही है,अंग्रेजों के समय  कोयला खान उसके दलालों तथा पूंजीपतियों के हाथ में था! रेल के पास            अपनी स्टीम इंजन चलाने के लिए कुछ  कोयला खानों  रहते थे !      इसके अलावा भी कुछ खाने सरकार अपनी  प्लांट चलाने के लिए सरकार के  पास था,  इसके अलावा भी कुछ खाने स्टील प्लांट  चलाने…

Read More