प्रवासी मजदूरों की दुर्दशा पर पूर्व केंद्रीय मंत्री सोमपाल के आंखों से आंसू छलका——

अरुण कुमार चौधरी मैं दो-तीन से प्रवासी मजदूरों की दुर्दशा का वीडियो देख कर मन में बहुत ही पीड़ा हो रही थी और लग रहा था कि    भारत में मोदी सरकार की घमंठ और गलत नीति के कारण लाखों मजदूरअपनी जान की प्रवाह के बिना हजारों किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए सिर पर समस्याओं का पहाड़ लेकर घर की ओर चल पड़े और मोदी सरकार एक तमाशबीन बनकर प्रवासी मजदूरों को मरने के लिए छोड़ दिया है! इन सारी कठिनाइयों का विस्तृत चर्चा करते हुए पूर्व केंद्रीय…

Read More